Lariago DS Tablet in Hindi की जानकारी, लाभ, फायदे, उपयोग, कीमत, खुराक, नुकसान, साइड इफेक्ट्स – Lariago DS Tablet ke use, fayde, upyog, price, dose, side effects in Hindi

Lariago DS Tablet की जानकारी-Lariago DS Tablet Information-

लारियागो 500एमजी(Lariago 500mg)मलेरिया को रोकने और मलेरिया का इलाज करने में सहायक है यह मलेरिया रोधी औषधि मनुष्य की R.B.C(RED BLOOD CELLS) के अंदर उपस्थित मलेरिया(MALERIA)परजीवी पर हमला करके उन्हें नष्ट कर देती है लारियागो 500एमजी(Lariago 500mg)  उपयोग आंतोंdescribe lupus erythematosus (D.L.E),Rheumatoid arthritis,Amebiasis(परजीबी संकर्मण)आदि रोगों या संक्रमण में उपयोग होता है लारियागो 500एमजी(Lariago 500mg)  को  मौखिक रूप से दी जाती है इस दवाई को लेते समय लिवर (liver)और रक्त कोशिकाएं(Red Blood Cells) को बराबर चेक करते रहना चाहिए


lariago ds kit how to use
lariago ds500mg



Lariago के लाभ और उपयोग करने का तरीका – Lariago Benefits & Uses in Hindi-

  • मलेरिया बुखार मुख्य( रोकथाम उपचार)
  • लेप्रा प्रतिक्रियाएं
  • प्रकाशीय प्रतिक्रियाएं
  • Describe lupus erythematosus(D,L,E)
  • Amebiasis (परजीवी संक्रमण है)
  • Rheumatiod Arthritis (संदिशथ)
  • Gaiardiasis
  • mononewchlosis

    Lariago DS Tablet काम कैसे करती है –How Lariago DS Tablet works –

    यह मलेरिया रोधी औषधि मनुष्य की आरबीसी (R.B.C)के अंदर उपस्थित मलेरिया परजीवी पर हमला करके उन्हें खत्म कर देती है



    इन बीमारी से ग्रस्त हैं तो लारियागो (Lariago)दवाई का उपयोग से बचे If you are suffering from these diseases then avoid using Lariago medicine –

    • आंखों की बीमारी,
    • मिर्गी,
    • सोरायसिस,
    • बहरापन

    निषेध – 

    • यकृत विकार,
    • दृष्टि संबंधी विकार, 
    • आहार नाल विकार, 
    • रक्त संबंधी विकार, 
    • पोरफायरिया |


    दुष्प्रभाव – 

    • मितली , वमन, 
    • अमाशय शोध,
    • पेट दर्द, 
    • सिर दर्द,
    • समायोजन में कठिनाई (difficulty in accommodation) 
    • आंखों में समस्या,  
    • निम्नरक्तदाब(low b.p) 
    • बहरापन,
    • मानसिक विकार ,
    • बालों का भुरा हो जाना ,
    • बेचैनी

    उपलब्धता – टेबलेट, सिरप, इंजेक्शन 



    विशेष सावधानियां  

    1.लारियागो 500एमजी(Lariago 500mg )का लंबे समय तक प्रयोग करने पर दृष्टि परीक्षण करना चाहिए

    2.बच्चों में गर्भावस्था
    3.मस्तिष्क या रक्त की बीमारी में
    4.दुग्धअवस्था
    5.मिर्गी में औषधि अति सावधानी से दें
    Youtube video-


    Leave a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Medical Jankari
    %d bloggers like this: