Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol in Hindi -की जानकारी,फायदे,उपयोग,कीमत,खुराक,साइड इफेक्ट्स – Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol ke use,fayde,dose, side effects in Hindi

 


नमस्कार दोस्तो,
स्वागत है आपका मेडिकल जानकारी मे आज में आपको जानकारी देने वाला हू Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol के बारे में ये एक दर्द निवारक दवाई है जो की बहुत ही असरकरक है तो बने रहे हमारे ब्लोगस में अगर आप जानकारी विडियो की जरिये देखना चाहते है तो आप हमारे यूट्यूब चैनल – मेडिकल जानकारी में जाकर देख सकते है तो चाइए जानते है Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol की जानकारी विस्तार से –


Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol क्या है –

एक दर्द निवारक दवाई है ओर ये तीन दवा की मिश्रण से बने है सिप ज़ोक्स टैबलेट को सीपला फ़ार्मा निर्मित करती है सिप ज़ोक्स टैबलेट की कीमत ₹60/06 है ओर ये आपको मेडिकल स्टोर में मिल जाती है ओर ये एक जेनरिक मैडिसिन है लेकिन इसका असर बहुत अच्छा ओर बड़िया है Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol टैबलेट को शैड्यूल एच के अंडर रखा गया है इसलिए जब भी उपयोग करे तो डॉक्टर से जानकारी के बाद उपयोग में लाये ! ये सामग्री आपको कही दवाई में मिक्स मिल जाता जाता है !



Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol में सामग्री – 

Chlorzoxazone ke fayde

टैबलेट तीन सामग्री को मिलकर बनाया गया है जिसके वजह से कफ़्फ़ी अच्छे काम ओर दर्द आदि के लिए उपयोगी साबित होती है आए जानते है इसके सामग्री के बारे में –

  • Diclofenac (50mg)डायक्लोफेनैक सूजन कम करने वाली दवाओं (NSAIDs) के समूह के अंतर्गत आता है। यह शरीर में उन रासायनिक पदार्थ के उत्पादन को अवरुद्ध करता है जिससे दर्द, बुखार और सूजन होती है!
  • Paracetamol(325mg) – पैरासिटामोल एक एनाल्जेसिक (दर्द निवारक) और एंटीपाइरेटिक (बुखार ) है। ओर उन रासायनिक संदेशवाहकों के कार्य को अवरुद्ध करता है जो दर्द और बुखार का कारण होते है !
  • Chlorzoxazone (500mg) Chlorzoxazone मांसपेशियों की कठोरता या ऐंठन को दूर करने के लिए मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में केंद्रों पर कार्य करता है जिससे मांसपेशियों के दर्द व शरीर के दर्द में आराम मिलता है !



Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol के फायदे –

      टैबलेट का उपयोग दर्द के लिए किया जाता है आए जानते है कैसे दर्द में आप इसका उपयोग कर सकते है –
  • मांसपेशियों की दर्द दूर करने लिए [To relieve muscle pain]
  • बुखार,सर दर्द,कमर दर्द,दांत दर्द आदि सभी दर्द में [Fever, headache, backache, toothache etc. in all pain]
  • ओप्रेसन के बाद दर्द या चोट लाग्ने पर दर्द के लिए [Pain or injury after opression]
  • गठिया का दर्द,गाउट ,[Arthritis pain, gout,]
  • Arthralgia [हड्डियों के जोड़ पर महसूस होने वाली तकलीफ़ ]
  • Myalgia [मांसपेशियों में दर्द और पीड़ा हल्के से गंभीर हो सकती है.]
  • माहवारी के दौरान दर्द [Pain during menstruation]
  • Osteoarthritis [एक तरह का गठिया रोग, जिसमें हड्डियों के सिरों पर लचीले ऊतक नष्ट होने लगते हैं.]
  • Rheumatoid arthritis [एक या कई जोड़ों की सूजन के कारण होने वाला दर्द और जकड़न]
  • Ankylosing spondylitis [रीढ़ और बड़े जोड़ों को प्रभावित करने वाला सूजनयुक्त गठिया]
  • मासिक धर्म के दौरान दर्द [Pain during menstruation]
  • Arthralgia; (जोड़ों में दर्द) आदि सभी शरीर के दर्द के लिए उपयोगी 


Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol के दुष्प्रभाव –

एक दर्द के लिए उपयोग होने वाली दवाई है जिसके सही उपयोग से फायदे होते है पर अगर आप इसको ज्यादा सेवन करते है तो आपको नुकसान भी देखने को मिल सकते है आए जानते है इसके दुष्प्रभाव के बारे में –

  • नींद व सुस्ती आना [Sleep and sleepiness]
  • थकान,उल्टी,सिरदर्द,चक्कर आना,[Fatigue,vomiting,headache,drowsiness,dizziness,]
  • धूमिल दृष्टि,मुंह सूखना,पेट में परेशानी,[Blurred vision, dry mouth, stomach discomfort]
  • आलस, दिल की धड़कन तेज़ी से बढ़ना,रक्तचाप में कमी [Laziness, rapid heartbeat, decrease in blood pressure]
  • Nephrotoxic
  • fluid retention
  • कब्ज
  • एलर्जिक (चेहरे,मुँह,और गले में सूजन,सांस लेने में तकलीफ,लाल चकत्ते,खुजली आदि) 
  • लंबे समय उपयोग से लिवर ओर किडनी खराब होना 


Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol की खुराक ओर मात्रा – 

टैबलेट को आप जितना कम उपयोग में लाया उतना अच्छा है ऐलोपथिक दवाई है ओर साथ में दर्द के लिए इसलिए जब जरूरी हो तब ही दर्द की दवाई का सेवन करे इनके आदत न डाले –
  • सामान्य खुराक – 1-2 बार दिन में (7-8 घंटे के गैप रखे )


Chlorzoxazone + Diclofenac + Paracetamol में सावधानिया – 

          किसी भी दर्द की को लेने से पहले आपको सावधानी रखने चाइए जो निम्नलिखित है –
  • जरूरत पड़ने पर ही दवाई का सेवन करे !
  • दवाई को जब भी ले तो चिकितशक से जानकारी जरूरी ले ! 
  • अगर आपको दवाई खाने के बाद एलर्जि,खुजली आदि हो दाव न खाये ओर चिकिशक से मिले !
  • दवाई की मात्रा चिकितशक से जरूर पूछे अपने मर्जी से न ले !
  • ज्यादा लबे समय तक सेवन न करे अगर करे चिकितशक के अनुसार ले !
  • लिवर,किडनी,पेट इन्फ़ैकशन,दिल की बीमारी या दवाई से एलर्जि रही हो तो दवाई का सेवन न करे!
  • कभी भी किसी भी दवाई को लेने से पहले उसके तारीख आदि देख ले !


नोट – हम आपको किसी भी दवाई को लेने को नही कहते है आप अगर दवाई ले तो अपने नजदीक डॉक्टर/फ़ार्मासिस्ट से संपर्क जरूर करे इस साइट पर आपको कही प्रकार की दवाई,बीमारी की जानकारी देखने को मिलेगे में एक फ़ार्मा सिस्ट हू ओर मेरा काम आपको जानकारी देने है तो आप कभी दवाई अपने मर्जी से न ओर अगर आप अपने मर्जी से दवाई लेते है ओर आपको नुकसान होता है तो  इसमे हमारी कोई जीमेदारी नही होगी ! 



                    धन्यवाद !

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Medical Jankari
%d bloggers like this: