यूरिक एसिड के लक्षण, कारण, इलाज, दवा और उपचार -Uric Acid Ke Karan, Lakshan, ilaj, Dawa Aur Upchar in Hindi [Uric acid symptoms,causes,treatment,medicine and treatment]

नमस्कार दोस्तों,
स्वागत है आपका मेडिकल जानकारी में आज इस ब्लोग्स में हम जानकारी देने वाले है यूरिक एसिड के बार में जानेगे की क्या है यूरिक एसिड,क्यों होता है यूरिक एसिड,और क्या लक्षण आपको यूरिक एसिड के देखने को मिलते है और क्या आपको परहेज रखना चाइये तो बने रहे ब्लोग्स में और अगर आप जानकारी  वीडियो के जरिये चाहते है तो आप हमे यूट्यूब चैनल पे सब्सक्राइब जरूर करे !!!


यूरिक एसिड क्या है -What is uric acid-

यूरिक एसिड (Uric Acid) शरीर में पाया जाने वाला ऐसा रसायन है जो पाचन (Digestion) के दौरान प्रोटीन (Protein) के टूटने से बनता है. यूरिक एसिड खून (Blood) में घुलकर किडनी (Kidney) तक पहुंचता है और फिर सफाई करके मूत्र मार्ग से बाहर निकल जाता है.और कुछ शौच के साथ निकल जाता है अगर यूरिक एसिड का लेवल ज्यादा  होता है तो गठिया,गाउट रोग होने का चांस होते है यूरिक एसिड वैसे आम रोग है लेकिन अगर आप इसे नज़र अंदाज़ करेंगे तो आपको जॉइंट्स रोग होते है जो आगे आपको बहुत तकलीफ देते है यूरिक एसिड रक्त में पाया जाने वाला एक अपशिष्ट उत्पाद है। 

यूरिक एसिड से होने वाले रोग -Diseases caused by increasing uric acid-

  • गठिया (Arthritis)
  • हार्ट रोग (heart disease)
  • मधु मेह (Diabetes)
  • गुर्दे की बीमारी (Kidney disease)
  • पथरी होना (Stones)
  • हाइपरयुरिसीमिया (Hyperuricemia)


यूरिक एसिड बढ़ने के कारण -Reasons for increasing uric acid-

  • जन्मजात या अनुवांशिक होना (Be genetic)
  •  शरीर में आयरन ज्यादा होना (Excess body iron)
  • ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम होना (Blood pressure problem 
  • मोटापा,गैस ,पेट साफ नहीं होना (Obesity, gas, stomach upset)
  • अधिक शराब व् नसा करना (Drink more wine)
  • थायराइड कम व ज्यादा होना (Low and high thyroid)
  • खाना पीना गलत होना (Wrong to drink food)
  • रेड मीट,सी फूड,दाल,राजमा,मशरूम,गोभी,टमाटर,मटर,पनीर,भिंडी,अरबी और चावल आदि से (Red meat,sea ood,lentils,beans,mushrooms,cauliflower,tomatoes,peas,paneer,okra, arabic and rice)
  • कही प्रकार की दवाई का सेवन (Intake of some kind of medicine)


यूरिक एसिड बढ़ने पर लक्षण -Symptoms when uric acid increases- 

         यूरिक एसिड बढ़ने पर ज्यादातर यही लक्षण देखने को मिलते है जो निचे दिया गए है – 
  • कभी कभी ऐसा भी हो सकता है यूरिक एसिड बढ़ने से कोई समस्या नहीं हो 
  • सामान्य तोर पर हाथो,पैरो के जॉइंट्स या रिब्स में दर्द होना 
  • जोड़ो का अकड़ जाना (Break up joints
  • आपके जोड़ों में तेज दर्द (Severe pain in your joints)
  • प्रभावित जोड़ों को हिलाने में कठिनाई (Difficulty moving the affected joints)
  • लालिमा और सूजन (Redness and swelling
  • गर्मी व् खरास आदि होना  (Heat and soreness)

यूरिक एसिड बढ़ने पर क्या न खाये व् परहेज-Avoiding rising uric acid


यूरिक एसिड बढ़ने पर क्या न खाये व् परहेज-Avoiding rising uric acid-

  • भारी दाल व् मिट,मछली का सेवन कम करे (Heavy pulses and meat, reduce fish intake)
  • पानी ज्यादा से ज्यादा पिए (Drink water as much as possible)
  • शराब का सेवन नहीं करे (Do not consume alcohol)
  • रात में दाल चावल न खाएं (Do not eat lentil rice at night)
  • यूरिक एसिड बढ़ने पर दही का न करें सेवन (Do not consume curd when uric acid increases)
  • तली भुनी चीजें और जंक फूड न खाये (Do not eat fried roast and junk food)
  • मीठी चीज़ का सेवन न करे (चीनी,शुगर,शहद) (Do not consume sweet cheese (sugar, sugar, honey)


यूरिक एसिड में क्या खाये व् क्या करे-What to eat and what to do in uric acid- 

  • वजन को कम करे (loss weight )
  • सभी प्रकार की फलियां जैसे मसूर की दाल, बीन्स, सोयाबीन और टोफू आदि यूरिक एसिड की समस्या में खा सकते हैं (Lentils, beans, soybeans and tofu)
  • साबुत अनाज में ओट्स, ब्राउन राइस और जौ खाएं (Eat oats, brown rice and barley in whole grains)
  • कम वसा वाले सभी डेरी उत्पाद (All low fat dairy products)
  • अंडा खा सकते है (Ceat egg)
  • कैनोला आयल, नारियल तेल , जैतून तेल और अलसी का तेल आदि खाएं (Eat canola oil, coconut oil, olive oil and flaxseed oil etc.)
  • Apple Cider Vinegar
  • यूरिक एसिड को सही करने में डाइट और परहेज का बहुत महत्व है तो डॉक्टरों से जानकारी जरूर ले !(Diet and diet are very important in correcting uric acid.)

Disclaimer: मेरे सभी ब्लॉग केवल सूचना के उद्देश्य से हैं। इस ब्लॉग से जुड़ी किसी भी जानकारी को किसी डॉक्टर द्वारा सुझाए गए नुस्खे, या किसी भी स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर के विकल्प के रूप में नहीं माना जाना चाहिए। दर्शकों को इन सूचनाओं का उपयोग अपने जोखिम पर करने के लिए किया जाता है। और अगर आपको कोई नुक्सान,दुष्प्र्भाव,होते है तो ये आपकी जिम्मेदारी होगी हम किसी दवाई को लेने के नहीं बोलते है ये जानकारी आपकी नॉलेज बढ़ाने के लिए दी जाती है धन्यवाद !!!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Medical Jankari
%d bloggers like this: