Pearl Tablet in Hindi – पर्ल टैबलेट की जानकारी,फायदे, उपयोग,खुराक,साइड इफेक्ट्स – [Pearl Tablet information,Benefits,Uses,Dosage,Side-Effects in Hindi]

नमस्कार दोस्तो,
स्वागत है आपका मेडिकल जानकारी ब्लोगस में आज में आपको जानकारी देने वाले है पर्ल टेबलेट[Pearl Tablet] के बारे में जो एक गर्भनिरोधक दवाई है जो आपको मेडिकल में उपलभ्द है ओर काफी सस्ती दवाई है जो एक महीने तक उपयोग में आती है तो आज इसके सारी जानकारी आपको दूंगा तो बने रहे ब्लोगस में अगर आप विडियो के जरिये जानकारी देखना चाहते है तो आप हमारे यूट्यूब चैनलमेडिकल जानकारी में जाकर देख सकते है आए जानते है पर्ल टेबलेट की जानकारी विस्तार से –

pearl contraceptive pills benefits


                    

इस लेख में आपको पर्ल टेबलेट की निम्नलिखित जानकारी मिलेगी –
  • पर्ल टेबलेट [Pearl Tablet] क्या है !
  • पर्ल टेबलेट[Pearl Tablet] की सामग्री की जानकारी !
  • पर्ल टेबलेट[Pearl Tablet] के फायदे ओर उपयोग ! 
  • पर्ल टेबलेट[Pearl Tablet] कैसे असर करती है !
  • पर्ल टेबलेट[Pearl Tablet] को लेने का तरीका !
  • पर्ल टेबलेट[Pearl Tablet] के नुकसान दुष्प्रभाव क्या है !
  • पर्ल टैबलेट[Pearl Tablet] लेते हुए ध्यान रखने वाली बातें !
  • पर्ल टैबलेट[Pearl Tablet]यदि गोली लेना भूल तो क्या करे !
  • पर्ल टैबलेट[Pearl Tablet] इन स्थितियों में पर्ल टैबलेट का सेवन न करे  ! 

1पर्ल टैबलेट क्या है [What is a Pearl Tablet] – 

पर्ल एक मुह द्वारा ली जाने वाली गर्भनिरोधक [Contraceptive] दवाई है जो आपको मेडिकल में मिल जाती है पर्ल टैबलेट को psi india private limited निर्मित करती है ओर इस दवा का 28 गोली का स्ट्रिप आता है जो एक साइकल हैपर्ल टैबलेट[Pearl Tablet] की कीमत 30/- है  पर्ल टैबलेट में 2 रंग की गोली आती है

सफ़ेद ओर ब्राउन की ! इसमे 21 सफ़ेद रंग की गोली गर्भनिरोधक गोली है ओर 7 आइरन की गोली है जो शरीर में मासिक चकर होती हुए खून की कमी को पूरा करने में मदद कर्ता है ओर इसको आपको जरूर खाना चाइए इसकी ओर जानकारी आपको दवाई की पैक पर भी मूजूद है ये कफ़्फ़ी जादा बिखने वाली दवाई है !



2पर्ल टैबलेट की सामग्री की जानकारी [Ingredients of Pearl Tablet]- 

 पर्ल टैबलेट में आपको दो सामग्री मिलती है ओर एक आइरन सामग्री मिलती है आए जानते है इसके बारे में –

  • Levonorgestrel – एक हार्मोनल दवा है जिसका उपयोग कई जन्म नियंत्रण विधियों में किया जाता है!
  • Ethinyloestraiol – एक एस्ट्रोजेन दवा है जो प्रोजेस्टिन के साथ संयोजन में जन्म नियंत्रण की गोलियों में व्यापक रूप से उपयोग की जाती है !
  • Ferrous Fumarate 

3पर्ल टेबलेट के फायदे ओर उपयोग [Benefits and Uses of Pearl Tablet]- 

                               पर्ल टैबलेट[Pearl Tablet] के निम्नलिखित उपयोग है –
  • गर्भनिरोधक दवाई है [Is contraceptive medicine]
  • जो बच्चो के बीच मे अंतर बड़ाना चाहते है [Children  make a Gap]
  • कुछ समय के लिए बच्चा नही चाहते है [Don’t want a baby for a while]
  • महवारी के दोरान दर्द को कम करती है [Reduces pain during periods]
  • माहवारी में हो रहे अतिरिक्त खून को कम करती [Reduces excess blood in menstruation]
  • अनचाहे गर्भ से सुरक्षा [Protection from unwanted pregnancy]   
  • अंडाशय और गर्भाशय के कैंसर से बचाव आदि [Prevention of ovary and uterine cancer etc.]

4पर्ल टेबलेट कैसे असर करती है [How Pearl Tablet Affects]- 

पर्ल टेबलेट शरीर में जाकर अंडाशय [Ovary] से अंडे के निकास को रोखती जिससे गर्भधरण नही होता है इसे आपको डेलि उपयोग करना होता है !



5पर्ल टेबलेट को लेने का तरीका [How to take a Pearl tablet]- 

    pearl contraceptive pills how to take

  • पर्ल टैबलेट[Pearl Tablet] को पीरियड के 5वे दिन से सुरू (ब्लड निकालने से 1 दिन को पहला दिन मानकर) करना चाइए पर्ल टेबलेट की स्ट्रिप में आपको पीछे से बन नीसान से सुरू करना है ओर दवाई को लेने का एक टाइम फिक्स करे ओर रोज उसी टाइम दवाई का सेवन करे !
  • अच्छा होगा अगर आप इसको रात के भोजन के बाद या सोने से पहले ले !
  • 21 दिन तक रोग सफ़ेद गोली लेने के बाद बाकी भूरे रंग की गोली 7 दिन तक खाये !

  • भूरे रंग की गोली लेते समय पेरियड सही से हो तो दाव को बंद न करे !
  • जब दवाई यानि भूरे गोली खतम हो गए तो आए पते से गोली लेना सुरू करे जैसे आप पहले ले रहे थे चाहे पेरियड सुरू हो या न हो दवाई बंद न करे !
  • अगर आप गर्भधरण करना चाहते है तो दवाई को बंद कर दे !

6पर्ल टैबलेट लेते हुए ध्यान रखने वाली बातें [Things to keep in mind while taking Pearl Tablet]- 

         पर्ल टैबलेट[Pearl Tablet] लेते हुए आपको कुछ खास बात का ध्यान रखना जरूरी है आए जानते है –
  • दवाई को लेने से पहले डॉक्टर से पूरी जानकारी ले !
  • दवाई को बीच में बंद न करे अगर पेरियड हो या न हो !
  • जब आप भूरे रंग की गोली का सेवन करे अगर उस टाइम पीरियड आ रहे हा या नही आ रहे है तो दवाई न सेवन बंद न करे !
  • जब आपकी सारी टेब खत्म हो जाए तो जाए दवाई का सेवन फिर से वैसे सुरू करे जैसे कर रहे है चाहे पीरियड हो या न हो !
  • अपने साथ एक स्ट्रिप एक्सट्रा जरूर राके ताकि खत्म होने पर आप फिर से सुरू कर सके ओर बीच में अंतर न आए !
  • पर्ल टैबलेट[Pearl Tablet] को उपयोग से पहले उसके सारी जानकारी जरूर राके !
  • अगर भूरी गोली लेने क बाद भी 2 बार पीरियड न हो तो डॉक्टर से मिले !


7पर्ल टेबलेट के नुकसान व दुष्प्रभाव [Pearl Tablet Side Effects]- 

 पर्ल टेबलेट के सामान्य से नुकसान देखे जा सकते है लेकिन ये ज्यादा दिनो तक नही होते है इसके चलते आप दवाई का सेवन बंद न करे अगर ज्यादा दिनो तक आपको परेसनी हो तो डॉक्टर से जाकर जानकारी ले !
pearl contraceptive pill ki nuksan
  • तीन माह तक स्तनों में खिंचाव [Stretch breasts for three months]
  • सिर दर्द,उल्टी,मिचली [Headache, vomiting, nausea]
  • सुस्ती आना ,वजन बढ़ाना [Lethargy, weight gain]
  • किसी में पीरियड के समय ब्लड कम आना या पीरियड न आना [Blood loss or periods in someone at a time]
  • ये कुछ दिनों तक होती है इससे आप दवा बंद न करे !

8यदि गोली लेना भूल तो क्या करे [What to do if you forget to take the pill]- 

  • यदि किसी रात आप दवा लेना भूल जाए तो याद आते ही दवा ले ओर पहले जैसे ही दवा का सेवन करे!
  • यदि आप 2 या 3 बार दवा लेना भूल जाती है तो नया पैक सुरू करने तक कोई ओर गर्भनिरोधक का उपाय ले !

9इन स्थितियों में पर्ल टैबलेट का सेवन न करे [Do not use Pearl Tablet in these conditions]- 

           कुछ ऐसे स्थितियों में दवाई का सेवन न करे या डॉक्टर से बिना परामर्श न ले !
  • गर्भधारण या बच्चे के जन्म के बाद 21 दिन तक सेवन न करे !
  • अगर 6 मह का बच्चा है ओर माँ का दुध पीटा है तो सेवन न करे !
  • 35 वर्ष या अधिक उम्र की है स्मोकिंग करती है तो डॉक्टर से सलाह ले !
  • माइग्र्न,मिर्गी,स्किन रोग,संस की बीमारी,आदि कोई बीमारी हा तो दवाई डॉक्टर के बिना न ले !
  • दुष्प्रभाव ज्यादा दिनो तक रहे तो डॉक्टर से सलहा ले ! 


Youtube Video-*–

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Medical Jankari
%d bloggers like this: