Enteroquinol in Hindi – एंटेरोक्विनोल की जानकारी, फायदे, उपयोग, कीमत, खुराक,साइड इफेक्ट्स – Enteroquinol ke use, fayde, upyog, price, dose, side effects in Hindi

नमस्कार दोस्तो
                   स्वागत है आपका मेडिकल जानकारी में दोस्तो आज हम आपको जानकारी देने वाले Enteroquinol टबलेट्स के बारे में जिसके बारे में सबको पता होगा ओर सायद अपने इसके उपयोग भी किया होगा ये सबसे जाने जानी वाली मैडिसिन है जो सबसे आम है दस्त के उपचार के लिए लेकिन आज इसमे आपको वो उपयोग बताने वाला हु जो सायद आपको पता न हो , ये दावा आपको आसानी से हर मेडिकल स्टोर में मिल जाते है ओर ये बहुत ही सस्ती दावा है , आए आगे जानते है इसकी पूरी जानकारी ,इसमे Enteroquinol के उपयोग ,कीमत ,फायदे ,नुकसान आदि की जानकारी दूंगा तो बने रहे ,अगर आप जानकारी विडियो के जरिये देखना चाहते है तो आप हमारे यूट्यूब चैनल मेडिकल जानकारी [youtube.com/medicaljankari ]  पे जाकर देख सकते है चलिये जानते है Enteroquinol के बारे में ओर जानकारी !




 Enteroquinol Tablets की  जानकारी [Enteroquinol Tablets Information]

  Enteroquinol  आंतों अमीबाइसाइड (intestinal amoebicides) दवाओं के वर्ग के अंतर्गत आता है जो दस्त के लिए बहुत ज्यादा उपयोग होते है ये आपको सिंगल कोंटइन्स में मिलती है ओर ये पेट के इन्फ़ैकशन में भी काफी अच्छी है ये बेस्ट एंटि डिरेयल तबलेट्स है , इसके कीमत ₹36.80 / 20 टबलेट है !
एंटेरोक्विनोल टबलेट्स schedule ‘H’ का ड्रग्स है जिसे उपयोग से पहले आपको डॉक्टर से परामर्श कर लेना चाइए ,एंटेरोक्विनोल को ईस्ट इंडिया फर्मास्यूटिकल निर्मित करती है एंटेरोक्विनोल एक एथिकल मैडिसिन है,जो की बहुत ही कारगर दवाई है !


 Enteroquinol Tablets की सामग्री [ Ingredients of Enteroquinol Tablets] –  

         ⇲ एंटेरोक्विनोल में एक ही कोंटइन्स डाला गया है जो निम्न लिखित है !

  • Quinidochlor – 250mg 

 Enteroquinol Tablets कैसे काम करता है [How Enteroquinol Tablets Work]

  • एंटरोक्विनोल डीएनए टॉपोइसोमेरेज़ नामक एंजाइम को रोकता है जिसे सेल विभाजन और वयस्क परजीवी के प्रजनन के लिए आवश्यक है,
  • एंटरोक्विनोल टबलेट्स अमीबा ,जियादिर्य ,कुछ कवक एवं कुछ जीवाणुओ पर कार्य करके उने नस्ट करती है यहा इनके सिस्ट को भी खत्म करते है !

 Enteroquinol Tablets के फायदे [Benefits of Enteroquinol Tablets] 

एंटरोक्विनोल सामान्य तोर पर लोग दस्त के लिए उपयोग करते है लेकिन इसके काही ओर सारे उपयोग है जो आज आपको इसमे बताने वाला हू , जो निम्न लिखित है !
  • आंत्र अंबियासिस के लिए [intestinal ambiasis][ दस्त ,पेट में ऐथन ,खूनी दस्त , बुखार ,लिवर में फोड़ा आदि ]
  • जियडियासिस [ शरीर में थकावट ,गंदी बदबू ,पेट मैं मरोड़ ,गॅस ,जी मिचलना ,आदि ]
  • त्रिकोमोनियसिस[Trichomoniasis] [योनि में खुजली,बदबू आना,पेशाब करते हुए दर्द या जलन होना ]
  • सामान्य दस्त में उपयोगी [Useful in common diarrhea]
  • खाज खुजली में [Scabies itching]
  • स्किन फूंगल इन्फ़ैकशन में [Skin fungal infection]
  • सिने में जलन या दर्द होना [Burning or pain in the cinema]
  • पेट का फूलना [Flatulence]
  • खाना का न पचना 
  • खटे डकार आना 
  • कवक जीवाणु संकर्मण [Fungal bacterial infection]

 Enteroquinol Tablets के नुकसान एवं दुष्प्रभाव [ Enteroquinol side effects ]

    एंटेरोक्विनोल दवाई के नुकसान हर मरीज में नही होते है मगर किसी किसी मरीज में  ये कुछ सामान्य नुकसान देखे गए है  अगर आपको ऐसे नुकसान ज्यादा दिन तक रहे तो डॉक्टर से परमर्श जरूर ले !

  • मितली होना [Nausea]
  • उल्टी होना  [Vomiting]
  • खुजली होना [Itching]
  • त्वचा पर चकते [Skin rash]
  • हरे दस्त होना [Diarrhea in green]
  • घेंगा होना [Goitre]
  • पेट दर्द [stomach pain]
  • जी मिचलाना [Nausea]
  • सर दर्द आदि [Headaches etc.]
  • ओर भी नुकसान हो सकते है !

 Enteroquinol  Tablets की सामान्य मात्रा [Common Dose of Enteroquinol]

 दवाई की मात्रा हमेशा डॉक्टर से जानकारी लेकर ही ले  दवाई की मात्रा मरीज के उम्र , ओर उसके हालत देख या काही ओर जानकारी लेकर दे जाते है इसके दवाई लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करे !

     सामान्य मात्रा
                  वयस्क – 250-500mg [ 3 बार नित्य 7-10 दिन तक ]

 Enteroquinol उपयोग से पहले सावधानी [Caution before enteroquinol use]


  • दवाई को उपयोग करने से पहले डॉक्टर से जांच करे 
  • अगर आप पहले से कोई दवाई उपयोग कर रहे है तो डॉक्टर को जानकारी जरूर ले !
  • अगर दवाई के किसी सामग्री से एलर्जि है उपयोग न करे 
  • बचो को दवाई अपने मरीज से न दे !
  • गर्भवती और स्तनपान कराने वाले रोगी उपयोग न करे !
  • दवाई  की उतनी ही मात्रा का सेवन करे जीतने डॉक्टर बताए ज्यादा सेवन न करे !
  • आयोडिन एलर्जि में बिलकुल उपयोग न करे !
  • लिवर रोग में 
  • थायरिओएड में उपयोग से पहले डॉक्टर से जानकारी दे ! 


                                                               🔽video dekhe-



Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Medical Jankari
%d bloggers like this: